मैंने कभी हिन्दू या भगवा आतंकवाद नहीं, बल्कि संघीय आतंकवाद कहा: दिग्विजय

भोपाल, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने बुधवार को कहा कि उन्होंने कभी हिन्दू या भगवा आतंकवाद शब्द का इस्तेमाल नहीं किया, बल्कि संघीय आतंकवाद कहा है।

इसके अलावा, उन्होंने कहा कि वह न हिन्दू विरोधी थे, न हिन्दू विरोधी हैं और न हिन्दू विरोधी रहेंगे।

सिंह ने यहां अपने निवास पर संवाददाता सम्मेलन में हिन्दुत्व के मुद्दे पर एक सवाल का जवाब देते हुए कहा, ‘‘मैंने कभी न भगवा आतंकवाद कहा, न हिन्दू आतंकवाद कहा। मैंने हमेशा संघीय आतंकवाद कहा।’’ उन्होंने कहा कि यहां तक कि मेरा इसमें विवाद भी हुआ। मैंने तो भगवा आतंकवाद कहे जान पर आपत्ति भी की थी।

कांग्रेस नेता से सवाल किया गया था कि आप पर हिन्दू आतंकवाद शब्द कहने के आरोप लगे हैं, इस पर आपकी क्या प्रतिक्रिया है।

इससे पहले, संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए दिग्विजय ने कहा, ‘‘मैं कट्टरपंथी विचारधारा के खिलाफ था, हूं और रहूंगा, क्योंकि ये विचारधारा हमारे सनातन धर्म एवं हिन्दू धर्म के विरोध में है।’’ उन्होंने आगे कहा, ‘‘इसलिए मुझे कोई चिंता नहीं है कि कोई मुझे हिन्दू विरोधी कहे, कुछ भी कहे। लेकिन, मित्रो मैं आपके माध्यम से समझा दूं कि दिग्विजय सिंह न हिन्दू विरोधी था, न हिन्दू विरोधी है और न हिन्दू विरोधी रहेगा।’’ दिग्विजय ने कहा, ‘‘मैं आचरण से, कर्म से एवं पूरी तरीके से धार्मिक प्रवृत्ति का व्यक्ति हूं और उसका उपयोग मैं कभी राजनीति में नहीं करता। मेरे लिए धर्म राजनीतिक हथियार नहीं है, आस्था है और सदैव रहेगा।’’

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: